सोरायसिस एवं विटिलिगो / ल्यूकोडर्मा, एक्जिमा इत्यादि चर्म रोगों के लिए आशा की किरण!

सोरायसिस एक त्वचा रोग है जो दुनिया की 2-3% आबादी (लगभग 12.5 करोड़) को प्रभावित करता है। भारत में, अस्पतालों के अध्ययन के आधार पर, लगभग 1% आबादी को प्रभावित करने का अनुमान है। यह ब्लॉग मैंने सोरायसिस के अपने अनुभव के आधार पर लिखा है, पर अब मुझे लगता है कि यह कुछ अन्य त्वचा रोगों जैसे विटिलिगो / ल्यूकोडर्मा, एक्जिमा आदि को भी मदद कर सकता है। यदि आप किसी भी हालत में सुझाए गए प्रोटोकॉल को अपनाते हैं तो कृपया टिप्पणी अनुभाग में परिणाम साझा भी करेंगे कि क्या फायदा हुआ? इस तरह, हम संभवतः दूसरों की भी मदद कर सकते हैं।

[यह ब्लॉग अंग्रेजी में लिखे मूल आलेख का अनुवाद है जो इस लिंक पर उपलब्ध है http://www.ranjan.in/hope-for-psoriasis/ ]

सोरायसिस एक त्वचा रोग है जो दुनिया की 2-3% आबादी (लगभग 12.5 करोड़) को प्रभावित करता है। भारत में, अस्पतालों के अध्ययन के आधार पर, लगभग 1% आबादी को प्रभावित करने का अनुमान है। यह ब्लॉग मैंने सोरायसिस के अपने अनुभव के आधार पर लिखा है, पर अब मुझे लगता है कि यह कुछ अन्य त्वचा रोगों जैसे विटिलिगो / ल्यूकोडर्मा, एक्जिमा आदि को भी मदद कर सकता है। यदि आप किसी भी हालत में सुझाए गए प्रोटोकॉल को अपनाते हैं तो कृपया टिप्पणी अनुभाग में परिणाम साझा भी करेंगे कि क्या फायदा हुआ? इस तरह, हम संभवतः दूसरों की भी मदद कर सकते हैं।

Continue reading “सोरायसिस एवं विटिलिगो / ल्यूकोडर्मा, एक्जिमा इत्यादि चर्म रोगों के लिए आशा की किरण!”

How a “Photo” brought ADITYA Tokamak(Nuclear Fusion Reactor) back from death!

This blog covers my experience of repairing a key magnet coil without which machine would have been dead and all due to a photo I happened to notice somewhere without searching for it!

[This blog covers my experience of repairing a key magnet coil without which machine would have been dead and all due to a photo I happened to notice somewhere without searching for it!]

Continue reading “How a “Photo” brought ADITYA Tokamak(Nuclear Fusion Reactor) back from death!”

History of noba.org website

NOBA stands Netarhat Old Boys Association as an alumni group of Netarhat School situated in Netarhat close to Ranchi(about 155 Kms) in Jharkhand. It is a school based on Gurukul traditions and it’s alumni have made mark all over country and world with their talent. NOBA is not a single organization but it is more of a concept with various chapters mostly based on geographical convenience. Some of them are registered and some are informal. In addition to social gatherings, NOBA has many social activities to help each other as well as society. This write up is about noba.org – a web portal developed to connects it alumni globally.

Continue reading “History of noba.org website”